पतंग कैसे उड़ाते है? – Patang kaise udae? (2022)

पतंग उड़ाने से हमारा मन भी उसके साथ ऊँचा-ऊँचा उड़ता है इसलिए हमे स्वयं हवा मे उड़ने जैसा आनंद प्राप्त होता है तो चलिए जानते है, पतंग कैसे उड़ाए?-Patang kaise udae? (How to fly kite? in Hindi)
patang-kaise-udae

पतंग कैसे बनाते हैं?-How to make a Kite? in Hindi

आप के मन में  की Patang kaise udae? और आ गए इंटरनेट पर जवाब ढूंढ़ने, वादा करता हूँ की आप निराश नहीं होंगे।  लेकिन उससे पहले पतंग बनाना सिख लो।

अपने हाथ से बनाकर उपयोग कि गयी वस्तुएँ, और मार्केट से ख़रीद कर उपयोग कि गयी वस्तुएँ दोनों के उपभोग से मिलने वाले आनंद मे ज़मीन-आसमान का अंतर होता है। इसलिए हम आज जानते है कि How to make a kite?

पतंग बनाने के लिए पहले से हल्के पतले कागज़ और गोंद का उपयोग किया जाता है। किंतु अब प्लास्टिक पन्नी और Tesco tape का उपयोग कर के Waterproof  पतंंग भी बनाये जा रहे है। जो बेहद सुंदर और हल्के होते है। अचानक बारिश होने पर भी पानी से भीगते नहीं।

पतंग बनाने के लिए बांबु की दो पतले तिल्ला लिए जाती है, जिनको तीर कमान आकार मे फ़िक्स किया जाता है, और उसमे एक पुंछ जोड़ी जाती है, जो पतंग को हवा मे संतुलन बनाये रखने मे मदद करती है।

पतंग कैसे बांधते हैं?-How to tie a Kite? in Hindi

पतंग बना ली अब सिख लो पतंग कैसे बांधते है।  फिर पढ़ेंगे Patang kaise udae?  हम ने पतंग तो बनी ली लेकिन उसमें धागा (किन्नर) ठीक से नहीं बंधा गया तो वो हवा में ऊँचा उड़ने के बजाए घुमकर नीचे पटक जाएगी। इसलिए जरूरी है कि हम सिखें How to tie a kite?

पतंग की तीर कमान का जहाँ मिलाप होता है, वहाँ पर एक मांझा वाला धागा बंधा जाता है। और दूसरा धागा, पतंग के तीर वाले तिल्ले पर पहले वाले धागे से लेकर नीचे के आखिरी छोर के बीच मे  एक बालीश अर्थात 9 इंच पर बांधते है।

और फिर दोनों धागों को समान रूप से बांध कर पासंग बनाते है अर्थात संतुलन बनाते है इसके लिए पहला धागा एक छोर से लेकर दूसरा जहाँ बंधा है वहाँ तक नापा जाता है। फिर दूसरा वाला पहले तक नाप कर दोनों को समान लंबा किया जाता है।

और फिर इन दोनों धागों को एक मुख्य धागा बंधा जाता है, जो सामान्य धागा नही होता बल्कि मांझा होता है। जिसे इच्छा अनुसार 30-40 फीट तक बांधते है। जिससे दूसरों की पतंग आराम से काट सके, बाकी उसके नीचे सामान्य धागा भी बंधा जाता है।

मांझा कैसे बनाते हैं-How to make manjha? in Hindi?

घर पर पतंग बनाने कि खुशी तब पुरी होती है, जब हम उसका मांझा भी बनाना सिख ले। इसलिए अब How to fly Kite? में ये भी जानते है कि How to make manjha? in Hindi?

वैसे तो आजकल मार्केट मे मांझा बना-बनाया मिलता है। जिसकी Quality के हिसाब से कीमत तय होती है। जैसे कडक, नरम, मध्यम आदि।

मांझा बनाने के लिए चांवल चिपचिपा पकाकर उसमे साबुन और कांच का पावडर मिलाया जाता है। तथा साथ मे पसंद के हिसाब से केमिकल वाला कलर भी मिलाकर उसका घोल तैयार किया जाता है। फिर उसमे से धागा पास किया जाता है। पास हुए धागे मे ये घोल थोड़ा-थोड़ा चिपकते जाता है। और इस तरह मांझा बनता है।

कडक मांजा बनाने के लिए कांच का बारीक़ पिसा हुआ पावडर का प्रमाण थोड़ा ज्यादा डालते है। वही नरम वाले मे थोड़ा कम होता है। उँगलियाँ कटने के डर से ज्यादातर लोग नरम वाला हि उपयोग करते है। लेकिन जिन को शर्त लगाकर दूसरों की पतंग काटने मे मज़ा आता है, वो सख़्त मांझा वाला धागा पसंद करते है।

पतंग कैसे उड़ाए?- Patang-kaise-udae?  

पतंग तो बना लिया अब उसे उड़ाने कि तकनीक भी पता होना ज़रूरी है तो चलिए जानते है पतंग कैसे उड़ाएं? 

पतंग उड़ाने के लिए सबसे पहले खुला मैदान जरूरी है। जहाँ पेड़ वगैरह कम हो। तथा हल्की तेज हवा भी चलना जरूरी है। ऐसी हवा पौंष और माघ महीने मे चलती है। तभी तो संक्रांति त्योहार के पर्व पर पतंगे उड़ाने कि प्रथा चली आयी है।

धागे से पतंग का संतुलन बनाने के बाद उड़ाने से पहले उसका झांप निकालना जरूरी है। इसके लिए बिल्कुल सावधानी से, तीर वाले सिधे तिल्ले को पतंग सिर पर रखकर पिछे की ओर हल्का सा दबाये, जिससे तिल्ला थोड़ासा  कमान आकार हो।

याद रखे ज्यादा नहीं झुकना है। इसके बाद पतंग को हवा मे उछालना है। और छोटे-छोटे झटके के साथ खींचकर ढील छोड़े जैसे ही घुमकर पुँछवाली बाजु नीचे कि तरफ और सिर उपर हो, धागा ज़ोर-ज़ोर से 2 या 3  बार खिंचे देखना पतंग उपर चढेगी फिर थोड़ी-थोड़ी ढील देकर धागा छोड़े, और यही प्रक्रिया तब तक दोहराते रहे जबतक आपकी पतंग ऊँचे आसमान मे ना जायें।

अगर एकबार वह उपर चली जाती है तो फिर गिरने का डर खत्म हो जाता है। लेकिन उसे झटके के साथ खींचकर छोड़ना जरूरी होता है।

 

how-to-make-kite-in-hindi

पतंग कैसे काटते हैं?-How do Kite bite?

Patang kaise udae? लेकिन Kite उड़ाने का मज़ा तब तक पुरा नही होता, जबतक हम शर्त लगाकर एक दूसरे कि पतंग ना काटे, ये बहुत ही जोखिम भरा और निपुणता वाला काम होता है। अपनी पतंग बचाते-बचाते दूसरों कि काटना, ये लंबे अनुभव के बिना संभव नही है।

आप के पास लंबा अनुभव है किंतु पतंग और मांझा अच्छी क्वॉलिटी का नही है तो भी आप पतंग नही काट पाओगे। इसलिए अच्छी पतंग और अनुभव दोनो चाहिए।

नीचे वाली पतंग काटते समय दूसरे के पतंग को ढील देते हुए क्रॉस मे  पेच डालकर नीचे खींचना है। और दूसरे कि पतंग अपने उपर हो, तथा वो आप को पेंच डालने कि ताक मे  है, तो आपने अनुभव से खुद को बचा ले या फिर उसकी पेच को असफल बना दे।

एक फ़ॉर्मूला याद रखे जबतक अपना मांझा उसके धागे पर तेजी से ना रगडे आप पतंग नही काट सकते। इस प्रक्रिया को आप को Practical मे देखना है तो यहाँ क्लिक करके Youtube का ये विडिओ देख लो।

पतंगों का महत्व – Importance of Kites

भारत में मकर संक्रांति के पर्व को तिल-गुड़ के साथ पतंगों का त्योहार भी कहा जाता है। गुजरात राज्य मे तो इसे धूम-धाम से मनाया जाता है। वहाँ पर खास बक्षिस रखकर पतंगों कि प्रतियोगिता (Contest) आयोजित कि जाती है।

तथा अन्य राज्यों मे भी अब गुजरात के गर्भा डांडिया कि तरह प्रथा फैलती जा रही है। ऊँचे आसमान मे उड़ने वाले किसी वस्तु कि डोर अगर हमारे हाथ मे हो तो मन को बहुत गहरा आनंद पहुँचता है।

पतंग के गुण : Properties of kite in Hindi

  • पतंग बच्चों से लेकर बूढ़ों तक सभी के मन में उमंग भर देती है।
  • पतंग  संक्रान्ति जैसे त्यौहार में खुशियाँ भर देती है।
  • पतंग एक डोर के सहारे आसमान और व्यक्ति के मन का संबंध जोड़ती है।
  • पतंग बैलेंस का महत्त्व समझाती है।

अंत में पतंग के बारे में एक कॉमेडी विडिओ जरूर देखे :

 

 

आशा करता हूँ कि Hindi Option कि पतंग कैसे उड़ाए? – Patang kaise udae? (How to fly Kite? in Hindi)  इस पोस्ट से आप को पतंग बनाने और उड़ाने का थोड़ा बहुत Idea ज़रूर आया होगा आप अपनी राय कमेंट बॉक्स मे ज़रूर देना। आप ने लेख पुरा पढ लिया इसलिए दिल से धन्यवाद!

 

Leave a Reply

Balram Bomanwad

मैं बलराम बोमनवाड आप को प्रणाम करता हूँ। मुझे ख़ुशी है की आप ने आप की खोज से संबंधित सामग्री ढूंढ़ने के लिए मेरी वेबसाइट का चयन किया है। मुझे आशा है की आप बिलकुल निराश नहीं होंगे आप के प्रश्न और समस्या का समाधान करना ही मेरे इस वेबसाइट का उद्देश्य है। और मुझे भरोसा है की आप अपनी खोज के लिए बार-बार मेरे साइट पर आएंगे। अपनी अनमोल राय कमेंट बॉक्स में लिखे। आप का दिल से धन्यवाद !
View All Articles
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: